फिर नई शुरुवात .. चार साँझा संग्रह

by Rishi Agarwal on July 03, 2015, 12:38:42 AM
Pages: [1]
Print
Author  (Read 557 times)
Rishi Agarwal
Umda Shayar
*

Rau: 14
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
28 days, 5 hours and 40 minutes.

साहित्य सागर

Posts: 6756
Member Since: Jul 2009


View Profile

फिर से एक नई शुरुवात  Thumbs UP फिर से नए संकलनों का दौर । इस बार कुछ नया..कुछ ख़ास करने की कोशिश  notworthy कविताओं एवं कहानियों का सांझा संग्रह ... समस्त रचनाकारों के लिए.. चाहे देश के हो या विदेश के .. सबका स्वागत है।
...
...
1. प्रेरक कहानी सांझा संग्रह :- उक्त संग्रह पूर्णत: प्रेरक कहानियों से परिपूर्ण होगा। जिसमें कोई भी लेखक एवं लेखिकाएं सम्मिलित हो सकते हैं। कहानीयां सिर्फ प्रेरक हो जिससे आने वाली भावी पीढ़ी उन्हें पढ़ कर कुछ सिख सके और अपने अंदर अच्छे संस्कारों का समायोजन कर सके। कहानी का कोई विशेष विषय नहीं है। कहानी देश भक्ति, कन्या भूर्ण हत्या, माँ, दहेज प्रथा, बाल विवाह, बहादुरी, संस्कार, सामाजिक इत्यादि अनेक विषय से सम्बन्धित हो सकती है। जिनसे हमें कुछ शिक्षा मिले और हमें अपने जीवन में उसे अपनाने का सहज प्रयास करें। सहयोग राशी 2000/-+ डाक खर्च (बदले में दस पुस्तकें दी जाएँगी) । एक रचनाकार को छ: पृष्ट दिए जायेंगे अत: वो उसी के अनुसार अपनी रचनाएँ भेजे।
.
.
2. प्रेरक काव्य सांझा संग्रह :- उक्त काव्य संग्रह में सिर्फ प्रेरक कविताएँ ही सम्मलित की जाएँगी। जिसमें देश भक्ति,कन्या भूर्ण हत्या, माँ, दहेज प्रथा, बाल विवाह, बहादुरी, संस्कार और समाजिक विषय की रचना शामिल हो सकती है। रचनाएँ किसी भी विधा में हो बशर्ते एक रचना सिर्फ एक पेज पर ही सम्मिलित की जाएगी। धर्मविवादित और राजनीती से जुडी रचनाएँ शामिल नही की जाएँगी। (एक रचनाकार की सिर्फ दो ही रचनाएँ सम्मलित की जाएँगी) । सहयोग राशी 600/- + डाक खर्च (बदले में उक्त संग्रह की तीन पुस्तकें दी जाएगी)
.
.
नोट :- ये कहानी सांझा संग्रह राजस्थान बोर्ड में लागू करवाने के लिए प्रयासरत रहेंगे इसलिए कहानी का स्तर जांच कर ही उन्हें सम्मिलित की जाएगी ।
.
.
3. कहानी साँझा संग्रह :- इस संग्रह में सिर्फ सस्पेंस और होरर कहानियां, रोमांस, विरह वेदना, बेवफाई की कहानियां ही सम्मिलित की जाएँगी। यह संग्रह आज के दौर और श्रोताओं की विशेष रूचि को देखकर विमोचित करने में प्रयासरत रहेंगे। सहयोग राशी 2000/- + डाक खर्च ( बदले में दस पुस्तकें दी जाएँगी)। एक रचनाकार को छ: पृष्ट दिए जायेंगे अत: वो उसी के अनुसार अपनी रचनाएँ भेजे।
.
.
4. काव्य सांझा संग्रह :- उक्त संग्रह में किसी भी विधा में आप अपनी रचनाएँ दे सकते हैं। इसमें कोई निर्धारित विषय नहीं है। एक रचना सिर्फ एक पृष्ट पर ही सम्मिलित की जायेगी। क्यूंकि एक पृष्ट पे एक ही रचना सुसज्ज्ति लगती है। जिससे उसका शीर्षक रचना को प्रभावी बना सके। एक लेखक की छ: रचनाएँ सम्मिलित की जाएँगी (निर्धारित छ: पृष्ट हेतु) । सहयोग राशी 2000/- + डाक खर्च (बदले में दस पुस्तकें दी जाएँगी)।
.
.
अन्तिम तिथि :- 30 जून से बढाकर 20 जुलाई कर दी गई हैं । अत: अब आप अपनी रचनाएँ 20 जुलाई 2015 तक भेज सकते हैं।
.
.
रचनाएँ यहाँ पे भेजिए :- rishikedia09@gmail.com
.
.
रचनाओं के साथ साथ संग्रह में सम्मलित रचनाकार अपनी सम्पूर्ण जानकारी अवश्य भेजे :- नाम, माता पिता का नाम, शिक्षा, जन्मतिथि, जन्मस्थान, पूर्ण पता, फेसबुक आईडी का लिंक, ईमेल आईडी, ब्लॉग का लिंक, संक्षिप्त परिचय और एक साफ़ सुंदर तस्वीर ।
.
.
_________________________________
और अधिक जानकारी के लिए सम्पर्क करें :-

.
.
ऋषि अग्रवाल ' अनुज ' (सम्पादक)
झुंझुनू (राजस्थान)
मोबईल नम्बर :- +919828882680 (व्हाट्सअप नम्बर) +918058447000

.
.
आयोजक :-
ग़ज़ल सागर, साहित्य सागर
एवं
युग सुरभि (त्रिमासिक पत्रिका)
Logged
qalb
Umda Shayar
*

Rau: 160
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
41 days, 21 hours and 16 minutes.
Posts: 7189
Member Since: Jun 2011


View Profile
«Reply #1 on: July 04, 2015, 10:21:36 PM »

फिर से एक नई शुरुवात  Thumbs UP फिर से नए संकलनों का दौर । इस बार कुछ नया..कुछ ख़ास करने की कोशिश  notworthy कविताओं एवं कहानियों का सांझा संग्रह ... समस्त रचनाकारों के लिए.. चाहे देश के हो या विदेश के .. सबका स्वागत है।
...
...
1. प्रेरक कहानी सांझा संग्रह :- उक्त संग्रह पूर्णत: प्रेरक कहानियों से परिपूर्ण होगा। जिसमें कोई भी लेखक एवं लेखिकाएं सम्मिलित हो सकते हैं। कहानीयां सिर्फ प्रेरक हो जिससे आने वाली भावी पीढ़ी उन्हें पढ़ कर कुछ सिख सके और अपने अंदर अच्छे संस्कारों का समायोजन कर सके। कहानी का कोई विशेष विषय नहीं है। कहानी देश भक्ति, कन्या भूर्ण हत्या, माँ, दहेज प्रथा, बाल विवाह, बहादुरी, संस्कार, सामाजिक इत्यादि अनेक विषय से सम्बन्धित हो सकती है। जिनसे हमें कुछ शिक्षा मिले और हमें अपने जीवन में उसे अपनाने का सहज प्रयास करें। सहयोग राशी 2000/-+ डाक खर्च (बदले में दस पुस्तकें दी जाएँगी) । एक रचनाकार को छ: पृष्ट दिए जायेंगे अत: वो उसी के अनुसार अपनी रचनाएँ भेजे।
.
.
2. प्रेरक काव्य सांझा संग्रह :- उक्त काव्य संग्रह में सिर्फ प्रेरक कविताएँ ही सम्मलित की जाएँगी। जिसमें देश भक्ति,कन्या भूर्ण हत्या, माँ, दहेज प्रथा, बाल विवाह, बहादुरी, संस्कार और समाजिक विषय की रचना शामिल हो सकती है। रचनाएँ किसी भी विधा में हो बशर्ते एक रचना सिर्फ एक पेज पर ही सम्मिलित की जाएगी। धर्मविवादित और राजनीती से जुडी रचनाएँ शामिल नही की जाएँगी। (एक रचनाकार की सिर्फ दो ही रचनाएँ सम्मलित की जाएँगी) । सहयोग राशी 600/- + डाक खर्च (बदले में उक्त संग्रह की तीन पुस्तकें दी जाएगी)
.
.
नोट :- ये कहानी सांझा संग्रह राजस्थान बोर्ड में लागू करवाने के लिए प्रयासरत रहेंगे इसलिए कहानी का स्तर जांच कर ही उन्हें सम्मिलित की जाएगी ।
.
.
3. कहानी साँझा संग्रह :- इस संग्रह में सिर्फ सस्पेंस और होरर कहानियां, रोमांस, विरह वेदना, बेवफाई की कहानियां ही सम्मिलित की जाएँगी। यह संग्रह आज के दौर और श्रोताओं की विशेष रूचि को देखकर विमोचित करने में प्रयासरत रहेंगे। सहयोग राशी 2000/- + डाक खर्च ( बदले में दस पुस्तकें दी जाएँगी)। एक रचनाकार को छ: पृष्ट दिए जायेंगे अत: वो उसी के अनुसार अपनी रचनाएँ भेजे।
.
.
4. काव्य सांझा संग्रह :- उक्त संग्रह में किसी भी विधा में आप अपनी रचनाएँ दे सकते हैं। इसमें कोई निर्धारित विषय नहीं है। एक रचना सिर्फ एक पृष्ट पर ही सम्मिलित की जायेगी। क्यूंकि एक पृष्ट पे एक ही रचना सुसज्ज्ति लगती है। जिससे उसका शीर्षक रचना को प्रभावी बना सके। एक लेखक की छ: रचनाएँ सम्मिलित की जाएँगी (निर्धारित छ: पृष्ट हेतु) । सहयोग राशी 2000/- + डाक खर्च (बदले में दस पुस्तकें दी जाएँगी)।
.
.
अन्तिम तिथि :- 30 जून से बढाकर 20 जुलाई कर दी गई हैं । अत: अब आप अपनी रचनाएँ 20 जुलाई 2015 तक भेज सकते हैं।
.
.
रचनाएँ यहाँ पे भेजिए :- rishikedia09@gmail.com
.
.
रचनाओं के साथ साथ संग्रह में सम्मलित रचनाकार अपनी सम्पूर्ण जानकारी अवश्य भेजे :- नाम, माता पिता का नाम, शिक्षा, जन्मतिथि, जन्मस्थान, पूर्ण पता, फेसबुक आईडी का लिंक, ईमेल आईडी, ब्लॉग का लिंक, संक्षिप्त परिचय और एक साफ़ सुंदर तस्वीर ।
.
.
_________________________________
और अधिक जानकारी के लिए सम्पर्क करें :-

.
.
ऋषि अग्रवाल ' अनुज ' (सम्पादक)
झुंझुनू (राजस्थान)
मोबईल नम्बर :- +919828882680 (व्हाट्सअप नम्बर) +918058447000

.
.
आयोजक :-
ग़ज़ल सागर, साहित्य सागर
एवं
युग सुरभि (त्रिमासिक पत्रिका)



boss!!!!!!!!!!!!!!
haardik badhhaaee


 Usual Smile Usual Smile Usual Smile Usual Smile Usual Smile Usual Smile Usual Smile
Logged
suman59
Umda Shayar
*

Rau: 102
Offline Offline

Gender: Female
Waqt Bitaya:
20 days, 7 hours and 56 minutes.
Your Breath Touched My Soul

Posts: 6539
Member Since: Jun 2012


View Profile
«Reply #2 on: July 05, 2015, 03:15:50 AM »
Bahut badayee
Logged
Pages: [1]
Print
Jump to:  


Get Yoindia Updates in Email.

Enter your email address:

Ask any question to expert on eTI community..
Welcome, Guest. Please login or register.
Did you miss your activation email?
February 15, 2019, 03:30:55 PM

Login with username, password and session length
Recent Replies
[February 15, 2019, 01:34:33 PM]

[February 15, 2019, 01:11:32 PM]

[February 15, 2019, 01:09:46 PM]

[February 15, 2019, 01:09:04 PM]

[February 15, 2019, 01:08:12 PM]

[February 15, 2019, 01:07:35 PM]

[February 15, 2019, 01:06:56 PM]

[February 15, 2019, 12:47:53 PM]

[February 15, 2019, 12:46:44 PM]

[February 15, 2019, 12:45:39 PM]
Yoindia Shayariadab Copyright © MGCyber Group All Rights Reserved
Terms of Use| Privacy Policy Powered by PHP MySQL SMF© Simple Machines LLC
Page created in 0.204 seconds with 23 queries.
[x] Join now community of 48359 Real Poets and poetry admirer