फुर्सत नहीं इंसान को,इंसान से मिलने की ---आर के रस्तोगी

by Ram Krishan Rastogi on June 28, 2019, 08:56:44 AM
Pages: [1]
ReplyPrint
Author  (Read 87 times)
Ram Krishan Rastogi
Yoindian Shayar
******

Rau: 61
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
27 days, 7 hours and 50 minutes.

Posts: 4036
Member Since: Oct 2010


View Profile
Reply with quote
फुर्सत नहीं इन्सान को,इंसान से मिलने की |
ख्वाहिश रखता है वह,भगवान से मिलने की ||

कर्म कर रहा इन्सान,जो एक शैतान भी नहीं करता |
पर ख्वाहिश रखता है,मरने के बाद जन्नत जाने की ||

बस न सका इंसान ठीक से इस अपनी जमीन पर |
पर तैयारी कर रहा है इन्सान, चाँद पर बसने की ||

बन रहा है शैतान अब इंसान,गलत काम से न डरता |
कानून भी अँधा हो चूका है,नहीं बात उससे डरने की ||

इंसान अब निठल्ला हो चूका है,इस मशीनी दौर में |
सब काम इंटरनैट पर हो रहे है,जरूरत नहीं हिलने की ||

चिठ्ठी-पत्री बंद हो चुकी है,जरूरत नही लिखने की |
जरूरत नहीं समझता है,इंसान इंसान से मिलने की ||

अब क्या करे रस्तोगी,वह भी इस वख्त मजबूर है |
जुर्रत नहीं कर रहा है,वह गजल हाथ से लिखने की ||  

आर के रस्तोगी
मो 9971006425  
Logged
MANOJ6568
Khaas Shayar
**

Rau: 28
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
38 days, 4 hours and 49 minutes.

Astrologer & Shayer

Posts: 9802
Member Since: Feb 2010


View Profile
«Reply #1 on: June 28, 2019, 01:51:51 PM »
Reply with quote
फुर्सत नहीं इन्सान को,इंसान से मिलने की |
ख्वाहिश रखता है वह,भगवान से मिलने की ||

कर्म कर रहा इन्सान,जो एक शैतान भी नहीं करता |
पर ख्वाहिश रखता है,मरने के बाद जन्नत जाने की ||

बस न सका इंसान ठीक से इस अपनी जमीन पर |
पर तैयारी कर रहा है इन्सान, चाँद पर बसने की ||

बन रहा है शैतान अब इंसान,गलत काम से न डरता |
कानून भी अँधा हो चूका है,नहीं बात उससे डरने की ||

इंसान अब निठल्ला हो चूका है,इस मशीनी दौर में |
सब काम इंटरनैट पर हो रहे है,जरूरत नहीं हिलने की ||

चिठ्ठी-पत्री बंद हो चुकी है,जरूरत नही लिखने की |
जरूरत नहीं समझता है,इंसान इंसान से मिलने की ||

अब क्या करे रस्तोगी,वह भी इस वख्त मजबूर है |
जुर्रत नहीं कर रहा है,वह गजल हाथ से लिखने की ||  

आर के रस्तोगी
मो 9971006425  

nice
Logged
surindarn
Mashhur Shayar
***

Rau: 258
Offline Offline

Waqt Bitaya:
94 days, 22 hours and 34 minutes.
Posts: 19542
Member Since: Mar 2012


View Profile
«Reply #2 on: June 28, 2019, 09:21:37 PM »
Reply with quote
waah waah bahut khoob.
 Thumbs UP Applause Applause Applause Applause Applause
Logged
Ram Krishan Rastogi
Yoindian Shayar
******

Rau: 61
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
27 days, 7 hours and 50 minutes.

Posts: 4036
Member Since: Oct 2010


View Profile
«Reply #3 on: June 29, 2019, 01:27:46 PM »
Reply with quote
waah waah bahut khoob.
 Thumbs UP Applause Applause Applause Applause Applause
Shri Surindran ji shukriya
Logged
Ram Krishan Rastogi
Yoindian Shayar
******

Rau: 61
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
27 days, 7 hours and 50 minutes.

Posts: 4036
Member Since: Oct 2010


View Profile
«Reply #4 on: June 29, 2019, 01:29:53 PM »
Reply with quote
Shri manoj ji shukriya
Logged
Pages: [1]
ReplyPrint
Jump to:  

+ Quick Reply
With a Quick-Reply you can use bulletin board code and smileys as you would in a normal post, but much more conveniently.


Get Yoindia Updates in Email.

Enter your email address:

Ask any question to expert on eTI community..
Welcome, Guest. Please login or register.
Did you miss your activation email?
July 19, 2019, 06:09:25 AM

Login with username, password and session length
Recent Replies
[July 18, 2019, 10:00:25 PM]

[July 18, 2019, 09:10:51 PM]

[July 18, 2019, 09:10:13 PM]

[July 18, 2019, 09:09:08 PM]

[July 18, 2019, 09:08:22 PM]

[July 18, 2019, 09:07:14 PM]

[July 18, 2019, 09:06:19 PM]

[July 18, 2019, 09:02:38 PM]

[July 17, 2019, 10:00:32 PM]

[July 17, 2019, 09:59:06 PM]
Yoindia Shayariadab Copyright © MGCyber Group All Rights Reserved
Terms of Use| Privacy Policy Powered by PHP MySQL SMF© Simple Machines LLC
Page created in 0.163 seconds with 25 queries.
[x] Join now community of 48363 Real Poets and poetry admirer