तराना-ए-आज़ादी

by rajbhandari911 on August 15, 2015, 09:25:38 AM
Pages: [1]
Print
Author  (Read 457 times)
rajbhandari911
Shayarana Mizaaj
**

Rau: 13
Offline Offline

Waqt Bitaya:
8 hours and 27 minutes.
Posts: 80
Member Since: Aug 2015


View Profile
चलो  सब  आज  हम  रंगीन  बहारो  की  बात  करते  है ,
आसमान  में  झिलमिलाते  उन  चाँद  तारो  की  बात  करते  है ,
आज  का  यादगार  यह  दिन  बहुत  खास  है  हर  आम  के  वास्ते,
पहाड़ो की  बात  करलें, उसके बाद  फिर  गंगा  किनारो  की  बात  करते  है ,
अपने इस  प्यारे  वतन  में  हर  घर  में  अब बस  आने ही को हज़ारों  खुशीआं ,
फूलों  तितलियों कोयल  का  ज़िक्र  हो  फिर  गुल - ओ - गुलज़ारों  की  बात  करते  है ,
जान  दे  गए जो जांबाज  अपनी, हम सब के लिए, चलो  उन्ही दिलदारो  की  बात  करते  है ,
जिनके  पसीने  से  बना है ये हिनुस्तान नया , बस  अब  तो  उन्ही  कामगारों  की  बात  करते  है ,
सरहद  पे  आज भी, लड़ रहे हैं इस मिटटी की खातिर, अब भी पूरे ज़ज़्बे से, उन  हज़ारों  की  बात  करते  है ,
करेंगे  नाम जो  रोशन अपना दुनिआ में  ये प्यारे, बहादुर  बच्चे  अपने, जग  में  इन्ही  सितारों  की  बात  करते  हैं !!  
Logged
Ram Krishan Rastogi
Yoindian Shayar
******

Rau: 61
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
27 days, 20 hours and 30 minutes.

Posts: 4125
Member Since: Oct 2010


View Profile
«Reply #1 on: August 15, 2015, 09:46:49 AM »
वाह वाह बेहद खूबसूरत ,स्वन्त्रता दिवस की बधाई
Logged
Shikha sanghvi
Yoindian Shayar
******

Rau: 25
Offline Offline

Gender: Female
Waqt Bitaya:
7 days, 11 hours and 59 minutes.

Shayari likhna or padhna humari hobby hai

Posts: 2238
Member Since: Jan 2015


View Profile WWW
«Reply #2 on: August 15, 2015, 12:10:33 PM »
Bahot khub ......
Happy Independence Day
Logged
khamosh_aawaaz
Umda Shayar
*

Rau: 54
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
23 days, 15 hours and 56 minutes.
zindagi tu kaisi hai

Posts: 5384
Member Since: Apr 2009


View Profile
«Reply #3 on: August 15, 2015, 07:17:06 PM »
चलो  सब  आज  हम  रंगीन  बहारो  की  बात  करते  है ,
आसमान  में  झिलमिलाते  उन  चाँद  तारो  की  बात  करते  है ,
आज  का  यादगार  यह  दिन  बहुत  खास  है  हर  आम  के  वास्ते,
पहाड़ो की  बात  करलें, उसके बाद  फिर  गंगा  किनारो  की  बात  करते  है ,
अपने इस  प्यारे  वतन  में  हर  घर  में  अब बस  आने ही को हज़ारों  खुशीआं ,
फूलों  तितलियों कोयल  का  ज़िक्र  हो  फिर  गुल - ओ - गुलज़ारों  की  बात  करते  है ,
जान  दे  गए जो जांबाज  अपनी, हम सब के लिए, चलो  उन्ही दिलदारो  की  बात  करते  है ,
जिनके  पसीने  से  बना है ये हिनुस्तान नया , बस  अब  तो  उन्ही  कामगारों  की  बात  करते  है ,
सरहद  पे  आज भी, लड़ रहे हैं इस मिटटी की खातिर, अब भी पूरे ज़ज़्बे से, उन  हज़ारों  की  बात  करते  है ,
करेंगे  नाम जो  रोशन अपना दुनिआ में  ये प्यारे, बहादुर  बच्चे  अपने, जग  में  इन्ही  सितारों  की  बात  करते  हैं !!   



veriiiiiiiiiiii gud
Logged
jeet jainam
Khaas Shayar
**

Rau: 237
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
60 days, 9 hours and 9 minutes.

my rule no type no life and ,i m happy single

Posts: 10150
Member Since: Dec 2012


View Profile WWW
«Reply #4 on: August 16, 2015, 07:26:21 PM »
waah waah waah bohat khubsurat

jai hind
Logged
Pages: [1]
Print
Jump to:  


Get Yoindia Updates in Email.

Enter your email address:

Ask any question to expert on eTI community..
Welcome, Guest. Please login or register.
Did you miss your activation email?
October 18, 2019, 02:57:53 AM

Login with username, password and session length
Recent Replies
Yoindia Shayariadab Copyright © MGCyber Group All Rights Reserved
Terms of Use| Privacy Policy Powered by PHP MySQL SMF© Simple Machines LLC
Page created in 0.154 seconds with 27 queries.
[x] Join now community of 48387 Real Poets and poetry admirer