Latest Shayari update in Email!

Enter your email address:

Original Quotes of Yoindians
kehinde ne je tuhadi soch changi h
Ta kuch bhi galt ho jaye
Par tuhde nal galt kuch nahi hunda keo ki tuhdai soch changi h

Posted by:RAJAN KONDAL
See More»
Birthdays this Month
Pooja on 20-09
tanhadil on 28-09
ANAAMIKA on 30-09
angel4u on 21-09
soudagar on 21-09
NABROY on 19-09
Welcome, Guest. Please login or register.
Did you miss your activation email?
September 19, 2018, 07:07:55 PM

Login with username, password and session length
Recent Replies
[September 19, 2018, 06:57:36 PM]

[September 19, 2018, 06:56:29 PM]

[September 19, 2018, 06:55:27 PM]

[September 19, 2018, 06:54:06 PM]

[September 19, 2018, 06:53:18 PM]

[September 19, 2018, 06:52:12 PM]

[September 19, 2018, 06:51:14 PM]

[September 19, 2018, 06:50:25 PM]

[September 19, 2018, 06:49:34 PM]

[September 19, 2018, 06:19:59 PM]
Members
Total Members: 48305
Latest: sumitdagar504
Stats
Total Posts: 1574559
Total Topics: 90492
Online Today: 472
Online Ever: 517
(April 10, 2011, 03:13:10 PM)
Users Online
Users: 1
Guests: 39
Total: 40
O_o

Welcome to Yoindia Shayariadab

A community of 48305 of real poets and poetry admirer from whole globe. Join Now and unleash the poet inside you!

बंद कर दिया है सांपों को सपेरे ने यह कह कर
अब इंसान ही इंसान को डसने के काम आयेगा

पल्ला झाड़ लेती है पुलिस जनता को यह कह कर
अब गुंडा ही गुंडों को पकड़ने के काम आयेगा

तोड़ लिये जाते है कच्चे फ्लो को यह कह कर
कोई केमिकल ही उनके पकने के काम आयेगा
 ۔۔۔۔۔کیا  سفید ہاتھی پالنے کا ارادہ ہے
یاد رکھنا وہ گنے کھانے کا دلدادہ ہے !
BAAZU TO PHELAAO

MohaN tumh pehle apne baazu to phailaao
Gar kisee ko baazuon mein lenaa chaaho
Aur chaaho ke koi tumhein bhi lapait le...

Rumi

Surindar. N          "MohaN" [/...
TUJH SE HOSIN KAUN HAI

Gar tu kisee hosin lapait se lipatnaa chaahataa hai
MohaN to phir kahin dur jaa nahin
Lipat jaa naa khud se tu koi kam hosin to nahin

Rumi

Surindar. N      ...
कशिश ए मोहब्बत में हर एक चोट खाई हमने
हुए जो तुमसे दूर तो सब दूरियां मिटाई हमने

करीब थे इतने कि निकाल लें जान भी हंसकर
एक बेरहम के लिए अपनी जान गवाई हमने

मीठी यादो से हमारी भीग जाती पलकें हर रोज़
जलते चिरागों तले हर रात तनहा बिताई हमने...
ZEEST

Main samajhtaa hoon
Bashar kee zindagi ek aisaa
Naa maaloom saa krishmaa hai
Kahan se shuru kahan yeh khatam
Pur israar aab-e-hayaat kaa chashma hai
Gar aap tabeeb se poochho to yeh...
Haad maans khoon pass kaa banaa majasma hai ...
जो चाहा कभी पाया नहीं
जो पाया कभी चाहा नहीं
जो सोचा कभी मिला नहीं
जो मिला कभी सोचा नहीं

जो मिला कभी रास आया नहीं
जो रास आया कभी मिला नहीं
जो पाया कभी वो सभाला नहीं
जो सभाला कभी वो खोया नहीं

अजीब सी पहेली ये जिन्दगी <...
देते है बधाई हम सब भारतवासी    
मोदी जी जन्म दिवस की तुमको
उन्नीस में जीत मिलेगी तुमको
तब ख़ुशी मिलेगी हम सब को

करते दुआ तुम जियो ह्जारो साल
लिखे भारत का एक नया इतिहास
जिससे जन जन हो अब विकास
विश्व में भारत का फैले प्रकाश  
<...
RUHAANI PYAAR

Naa to main tujhe dil se pyaar kartaa hoon
Naa hee tujhe man se hee pyaar kartaa hoon

Iss dil kaa kyaa ho yeh nigorhaa ruk saktaa hai
Man kaa bhi kyaa ho waqt isse badal saktaa hai

Iss liye jaan-e-jaan main ne yeh fais...
DIL KEE KASHMAKASH

Tumh aur woh ek aisse safar par jaao
Saath saath chalo bas chalte hee jaao

Tu yun naacho mere dil maan taa taa thayia
Ghungru naa bajein koi nazaaraa naa banein

Eh mere hatheeley dil tumh itnaa to samajh lo
Laf...
chor chor kuch log kya chillaane lage
modi ko log saaf suthara bataane lage
बातो में उसकी जितना मक्कन उतना ही चुना था
बहला फुसलाकर मुझे उसने मेरा जिस्म छुना था
सुलगती रेत में पानी की क्यों तलाश करूँ,
हुजुमे ख्वाहिशों के बीच में क्यों बास करूँ. 

मुझको मालूम है हकीकत शराबखाने की,
अपनी मर्ज़ी से पीने वाले को क्यों हताश करूँ.
 
जो भी होना है वो एक दिन होकर रहेगा,
बेवज़ह फिक्र करके क्यों खुद को खाक करूँ.

बदन मेरा है पर ये दिल ...
YAAD

Tumh thak jaate ho mujhe yaad karte karte
Kyaa tumhaaraa sar dabaa doon yaa paaun


Surindar. N              "MohaN"
जब से बदलने लगी है सूरत मेरी,
पहचानने लगा है अब आईना मुझे.

तू ही क्या अब खुद पर भी भरोसा कैसे करूँ,
वक़्त ने सीखा डाली हैं अब चालाकियाँ मुझे.

जब भी चाहो मेरे जज़्बात से खेलकर देख लो,
पत्थर दिल बना दिया है अब हालात ने मुझे.

जाम उठ...

बोझ किसका है यारब पूछा ये ना किसी ने
चटख जाने का आया इल्ज़ाम भी हमीं पर

------सरु
[color]
मुश्किल जो है काम वही तो कर के दिखाना है
तेज है हवाएं जहा वही तो दीपक को जलाना है
Hum to tanha aaye the tanha chle jayenge <br>
Tumhari dii rusvai ko sath le jayenge <br>
Bs itna rhm krna ae mere dost <br>
Kisi or ko is tanhaii ka hissa mt bnana<br>
Vrna vo bhi hmari trh tumhe xhod kr chle jayenge...<br>
Hum to tanha aaye the tanha chle jayenge <br>
Tumhari dii rusvai ko sath le jayenge <br>
Bs itna rhm krna ae mere dost <br>
Kisi or ko is tanhaii ka hissa mt bnana<br>
Vrna vo bhi hmari trh tumhe xhod kr chle jayenge...<br>
सेल लगाकर दुकानदार,ग्राहकों को आकर्षित करते अधिक है
जब ग्राहक दुकान में घुस जाये,उसकी जेब काटते अधिक है

देते है जो डिस्काउंट,चीजो की प्राइस बताते अधिक है
इस तरह दुकानदार ग्राहकों का,ऊल्लू बनाते अधिक है

लालच करना बुरी बला है,उसमे ग्राहक फसत...
MAIN HEE GALT THAA

Achhaa to yeh hai khudko hee galt samjho
Jab ke ho to wohee galt uss se tumh yahee kaho
Shaayad tumhin theek theh bas ek main hee galt thaa
Woh giraani mein ghir jaaye gaa ek din muaafi maang le gaa


[color...

कुछ तो हिंदी में बोलिए साहिब...

-अरुण मिश्र


कुछ तो हिंदी में बोलिए साहिब।
मन की गांठों को खोलिए साहिब।।

पाँच-तारे से निकल कर तो कभी।
गा...
हिन्दी हमारी राष्ट्र भाषा है,इसका करो विकास
हिन्दी में सब काम करो,ऐसा करो सब प्रयास

हिन्दी बोलोगे तो होगा देश का तभी विकास
दूसरी भाषा बोलोगे, होगा हिंदी का परिहास

अगर छोड़ते अपनी भाषा,ये हिंदी का अपमान है
लिखे और बोले अपनी भाषा,ये हिं...
EK KHAYAAL

Sahib ek to yeh duniya hee gol ho
Phir kreeb kee rah bhi naa humwaar ho
To phir kyun naa yeh dil-e-greeb kahin                                              
Bhi jaanye mein naa daanwan.dol ho
Haaye ree meree mukhtasar zindagi
Ko...
ज़रा भी गर उसे मेरी फिक्र होती
बेहाली की सुध मेरी  कभी तो लेती
Yoindia Shayariadab Copyright © MGCyber Group All Rights Reserved
Terms of Use| Privacy Policy Powered by PHP MySQL SMF© Simple Machines LLC
Page created in 0.484 seconds with 21 queries.
[x] Join now community of 48305 Real Poets and poetry admirer