Latest Shayari update in Email!

Enter your email address:

Original Quotes of Yoindians
kehinde ne je tuhadi soch changi h
Ta kuch bhi galt ho jaye
Par tuhde nal galt kuch nahi hunda keo ki tuhdai soch changi h

Posted by:RAJAN KONDAL
See More»
Birthdays this Month
bekarar on 29-01
samnoj on 27-01
Kaveesh_Verma on 30-01
Welcome, Guest. Please login or register.
Did you miss your activation email?
January 27, 2022, 03:24:52 AM

Login with username, password and session length
Recent Replies
[January 25, 2022, 06:33:51 AM]

[January 25, 2022, 05:18:52 AM]

[January 25, 2022, 05:18:06 AM]

[January 25, 2022, 05:17:18 AM]

[January 24, 2022, 02:31:37 PM]

[January 23, 2022, 10:05:12 AM]

[January 19, 2022, 02:51:25 PM]

[January 19, 2022, 02:39:31 PM]

[January 19, 2022, 08:25:22 AM]

[January 19, 2022, 08:24:38 AM]
Members
Total Members: 8441
Latest: shahzad1
Stats
Total Posts: 1596495
Total Topics: 95145
Online Today: 472
Online Ever: 517
(April 10, 2011, 07:13:10 PM)
Users Online
Users: 0
Guests: 130
Total: 130

Welcome to Yoindia Shayariadab

A community of 8441 of real poets and poetry admirer from whole globe. Join Now and unleash the poet inside you!

परदेस से वतन को पैग़ाम … “सारे जहां से अच्छा” की  ज़मीन में

दुनिया में हो कहीं भी, चाहे मकां हमारा
घर था है और रहेगा, हिंदोस्तां हमारा

कितनी ही नद्दियों के, संगम से है ये सागर
कितने गुलों से रंगीं, है गुलसितां हमारा

क़ुरआन-ओ-वेद भी हैं, ‘टेक’ और ‘इकॉनमी’ है...
kabhi jawab ban kar kabhi sawaal ban kar
 zehan mein rehte ho haseen khayal ban kar ,,,

dil mein denge jagah tumein umar bhar ke liye
  chale na jana do pal thehar ke  mehmaan ban kar ,,,

tumein to hum abhi se apna maan baithe hain
  guzar na jana kareeb se ka...
चाँद जैसा मुखड़ा तेरा,
पूछूं हर किसी से मैं पता तेरा,

महकते हैं लफ्ज़ तेरी खुशबु से,
हर ग़ज़ल तेरी, हर क़ता तेरा,

है मिराज तू, भरम हर गुल का,
रंगत शोख तेरी, रंग शाहिस्ता तेरा,

    Hume Unka Deedar Har Roj Hota Hai
    Magar Aankhe Shar...
आप यह ले लो
हम यह ले लेते हैं
आप हमें गाली दे लो
हम आपको दे लेते हैं
शी...................
पता ना चले किसी को
हम बहरूपिए हैं
नही घुटता कभी दम हमारा
हम मुखौटे चढ़ा कर
पूरी जिंदगी जी लेते हैं.
BARH JATI HAI CHAHAT PARH KAR ,,,
    ITNI BHI MOHABBAT NA LIKHA KRO
हमें जब भी उनका सितम याद आए 
लब-ए-आह-ओ-फ़रियाद* पर दाद आए
*आह और फ़रियाद वाले होंट

कहा था उठा दो मुझे इस जहां से
कई हाथ करने को इमदाद* आए
*सहायता

किसी की नज़र लग सके इसके पहले
हमीं ख़ुद को करके हैं बर्बाद आए

परिंदों को उजड़े चमन में बुलाओ...
[     Mausan yuhin gujarta ja raha hai

     Hum unse aur wo humse yuni milte ja rahe hain

     Naa pyar na izhaar phir bhi mulakat karte ja rahe hain

Jismon ka milna aasan hai par dilon ka milna mushkil
Jaise samandar ki satah to har koi chu leta hai lekin uski gehraiyan har koi nahi.
Jismon ka milna aasan hai par dilon ka milna mushkil
Jaise samandar ki satah to har koi chu leta hai lekin uski gehraiyan har koi nahi.
पहले कहते हैं आइना हो जाएँ
हमसे सब लोग फिर ख़फ़ा हो जाएँ

दुश्मनी है तो ये क़रीबी है
दोस्त बन जाएँ तो जुदा हो जाएँ

दर्द है दर्द की दवा तो चलो
दर्द में और मुब्तला* हो जाएँ
*ग्रस्त

हम तेरी ज़ुल्फ़ से बँधे भी नहीं
कि परेशान जा-ब-जा* हो जाएँ <...
           Aankho ka shabab


   Aaj hum pahunch gaye mahkhane
   unki sharab ka shabab dekhne

   hume sharab ka nasha to na hua janab
  
   par hum unki aankho ki sharab se joom gaye


   toothy4 toothy4 toothy4 toothy4 toothy4 :too...
प्रार्थना
***********
कर दी बड़ी बर्बादी,देश हुआ बड़ा बेहाल।
कोरोना के जाल से प्रभु हमको निकाल।।

चुनाव की रैलियां रोज है होती,
भीड़ बिन मास्क इकठ्ठा है होती।
नेता सभी सत्ता के लालची हो गए,
कोरोना नियम सब बेकार हो गए।
चलते है सब नेता अपनी ही चाल,
नेताओ के जाल प्रभ...
[size=165pt]बरसात,साजन व सजनी
*******************
आह ! लगी है आज बरसात,
जैसे दिन में हो गई हो रात।
फोन साजन को लगा रही हूं,
हो रही नही उनसे मेरी बात।।

चल रही है ठंडी ठंडी हवाएं,
कांप रहा है मेरा सारा गात।
अगर ऐसे में साजन न आए,
कैसे कटेगी मेरी ठंडी ये रात।।

मेरी प्यारी स...
            SAAL KA SAFAR

  YUNHI GUJAR GAYI YE SAAAL JANAB
  KISI KO HAMARA KHYAL TAK NAHI AAYA

  LOG BADA KARTE HAI HAR NEW YEAR KI SURUAAT ME
  KUD KO BADLNE KA

  INTAR RAHEGA Kumar.. KO IS SAAL BHI
  KI UNKO HAMARE KHYAL AATE HAI KI NAHI.......[...

Meri Har Duaa Lage Tujhe,.
Umr Teri Daraaz Ho,.
Har Khushi Mile Tujhe,.
Teri Chahat Tere Paas Ho,.

Meri Khwahish Yahi Hai Ki Tujhe Har Khushi Mile,.
Log Tamanna Karte Hain Jiski Wo Zindagi Mile,.

Happy Birthday To You,.

        Raat ko Soye ye maan kar ki
        Kal se unhe Bhul jayenge

        Subah Uthe to Dua mein Khuda
        Se unhe hi maang baithe.....




         tearyeyed tearyeyed tearyeyed tearyeyed tearyeyed tearyeyed
मैं यमुना गंगा की बहना
निर्मल पावन मेरी जल की धारा
उदगम स्थान मेरा यमुनोत्री
पहाड़ों से मेरी जन्मों की मैत्री

सूर्यकन्या मैं हूँ कहलाती
काया मेरी भई श्याममयी
बर्फीली मैंने चादर ओढ़ी
हिमालय संग मैं भी हूँ झूमी

मेरे तीर पर रची थी लीला
श्रीकृष्ण के संग देखी रासलीला
कान्हा की बांसुरी मैं थी ...
घमंडी का सिर नीचा
****************
इतनी जरा सी बात,समंदर को भी खल गई।
एक कागज की नाव,मुझ पर कैसे चल गई।।

बड़ी बड़ी नदियां मुझ में डूब कर लुप्त हो गई।
छोटी सी चिड़िया,मुझमें डुबकी लेकर चली गई।।

बड़े बड़े जहाजों को मै तुरंत ही डुबो देता हूं।
बड़ी बड़ी लहरों को,मै ह...
हर कोई चाँदनी को देख रहा
चाँद है तीरगी* को देख रहा
*अँधेरे

मैं हसद* से नहीं तअज्जुब से
दूसरों की ख़ुशी को देख रहा
*ईर्ष्या

तुझसे जाना कि और भी है कोई
मैं तो था बस तुझी को देख रहा

उसके आते ही सारी महफ़िल में
हर कोई हर किसी को देख रहा
मेरे दिल के करीब,आओगे कब तुम
****************************
मेरे दिल के करीब,आओगे कब तुम ?
आकर मुझे गले से लगाओ कब तुम ?

चूड़ियां लाई हूं मैं अभी मीना बाज़ार से।
आकर चूड़ियों को पहनाओगे कब तुम ?

सुहागन हूं मै,मेरी मांग सूनी पड़ी है।
आकर मेरी मांग को भरोगे कब तुम ?...
मेरे दिल के करीब,आओगे कब तुम
****************************
मेरे दिल के करीब,आओगे कब तुम ?
आकर मुझे गले से लगाओ कब तुम ?

चूड़ियां लाई हूं मैं अभी मीना बाज़ार से।
आकर चूड़ियों को पहनाओगे कब तुम ?

सुहागन हूं मै,मेरी मांग सूनी पड़ी है।
आकर मेरी मांग को भरोगे कब तुम ?...
चलो अब गांवो की ओर
******************
चलो अब गांवो की ओर,
बढ़ रहा है शहरों में शोर।
प्रदूषण भी यहां बढ़ रहा,
जीना दूभर यहां हो रहा।।

चिमनियां धुआं उगल रही है,
मानवता को वे निगल रही है।
सांसों का कर रही है वे संहार,
मानव पर कर रही है वे प्रहार।
बचेगा नही यहां अब ...
 रेख़्ता पटौलवी के 10 बेहतरीन शेर        
        1.
 रेख़्ता हाथ में ज़मीं भी नहीं
बात करते हो आसमानों की
        2.
ऐ लो अख़बार भी क़ानून भी मुंसिफ़ भी बिके
किस में हिम्मत है हक़ीक़त को हक़ीक़त लिक्खे
         3.
हज़ारों आंधियां तूफ़ान आए और गए यारो !
चराग़े रेख़्ता मद्धम सही पर अब भी जलता है
     ...
हिंद की ताजदार है उर्दू
इस चमन की बहार है उर्दू  
लखनऊ की नज़ाकतों की क़सम
दिलबर-ए -तरहदार है उर्दू
दिल्ली वालों के दिल को लूट लिया
शौख़  चंचल निगार है उर्दू
लाल किले की रौनक़ों की क़सम
जलवा -ए- सदबहार है उर्दू
फ़ख़्र से कह रहा है ताजमहल
इश्क़ की यादगार है उर्दू
रेख़्ती बेगमात की ज़ीनत
शह ज़फ़र...
Yoindia Shayariadab Copyright © MGCyber Group All Rights Reserved
Terms of Use| Privacy Policy Powered by PHP MySQL SMF© Simple Machines LLC
Page created in 0.059 seconds with 19 queries.
[x] Join now community of 8441 Real Poets and poetry admirer