Latest Shayari update in Email!

Enter your email address:

Original Quotes of Yoindians
Jado bhi lage tusi ekale ho esh duniya di behd vich
Udo apne maa baap diya ankha vich dekh laio jwab mil jau

Posted by:RAJAN KONDAL
See More»
Birthdays this Month
khalidrawat on 25-10
Aansoo on 30-10
AnnMiner on 27-10
FAREE on 31-10
Welcome, Guest. Please login or register.
Did you miss your activation email?
October 14, 2019, 10:00:08 AM

Login with username, password and session length
Recent Replies
[October 14, 2019, 08:14:07 AM]

[October 14, 2019, 08:12:16 AM]

[October 14, 2019, 02:30:13 AM]

[October 13, 2019, 11:44:18 PM]

[October 13, 2019, 11:32:39 PM]

by Asif Pai Khan
[October 12, 2019, 04:29:06 PM]

[October 12, 2019, 11:56:58 AM]

[October 12, 2019, 11:55:43 AM]

[October 11, 2019, 09:23:21 PM]

[October 11, 2019, 09:19:59 PM]
Members
Total Members: 48377
Latest: StockwpTriah
Stats
Total Posts: 1579984
Total Topics: 91538
Online Today: 472
Online Ever: 517
(April 11, 2011, 12:43:10 AM)
Users Online
Users: 0
Guests: 104
Total: 104

Welcome to Yoindia Shayariadab

A community of 48377 of real poets and poetry admirer from whole globe. Join Now and unleash the poet inside you!

Khuda ka tarasha kilona,Ek din toot bikhar jaunga,
Jalti hui mom sa, Aahista waqt mein pighal jaunga,
Duniya ke jhamele mein,Kisi din tamam mit jaunga…

Do pal ka dhilasa, Sath hone ka jhuta wasta na do,
Akela tha, hun..Khule asmaan sa akela reh jaaunga,
Na koi amaanat, Na parchai tak ko saath...
Khuda ka tarasha kilona,Ek din toot bikhar jaunga,
Jalti hui mom sa, Aahista waqt mein pighal jaunga,
Duniya ke jhamele mein,Kisi din tamam mit jaunga…

Do pal ka dhilasa, Sath hone ka jhuta wasta na do,
Akela tha, hun..Khule asmaan sa akela reh jaaunga,
Na koi amaanat, Na parchai tak ko saath...
हरकत कहो या समझो उसका खौफ चेहरे से नज़र फिसल ही जाती है
किसी भी महिला को घूरो तो वो अपना पल्लू  संभालती नज़र आती है
Kisike rok-tok se, Bhale dil kabhi jhuka hai,
Dariya-e-Ishq sailab,Aashiq ko le duba hai,
4 din zindagi mein, Lamhe bhar khushi hai,
Wafai-Dhokha Razamandi, Sab raazi karlo,
Husn-e-mehfil mein,Tamam razdar chunlo,
Aarzu mukammal,Barish-e-lutf mein bhigalo,
Har khwahish ...
शोर होता नहीं है शोरिश में
मैं हूं बेज़ार अपनी ख़्वाहिश में

कर दो तर्क-ए-अना गुज़ारिश में
मैं तो नाकाम इस की कोशिश में

आसमां तो अता हुआ लेकिन
है मयस्सर क़फ़स की बंदिश में

वहम मत पालना रफ़ाक़त का
मुस्कुराते हैं लोग रंजिश में

अपना दामन बच...
विकास का दीपक जलता रहे,मेरे इस देश में |
घर घर दीवाली मने,हर क्षेत्र और हर वेश में ||

ज्ञान की ज्योति जलते रहे,कोई भी अछूता न रहे |
हर बालक को शिक्षा मिले,कोई भी अनपढ़ ने रहे ||

स्वच्छ भारत हम बनाये,कही भी हम गंदगी न करे |
स्वच्छ हवा स्वच...
विकास का दीपक जलता रहे,मेरे इस देश में |
घर घर दीवाली मने,हर क्षेत्र और हर परिवेश में ||

ज्ञान की ज्योति जलते रहे,कोई भी अछूता न रहे |
हर बालक को शिक्षा मिले,कोई भी अनपढ़ ने रहे ||

स्वच्छ भारत हम बनाये,कही भी हम गंदगी न करे |
स्वच्छ हवा,स्वच्छ जल,सबको मिले ऐसा प्रयत...
दिल तुम्हारे बिन अब लगता नहीं |
कैसे समझाऊं इसे,समझता नहीं ||

दिल लगाने का हस्र होता है क्या |
ये इतना बुद्धू है कुछ जानता नहीं ||

कितना जिद्दी हो गया है मेरा दिल |
जिद्द करता रहता है ये मानता नहीं ||

तुम्हारी धडकनों को ही सुन...
दिल तुम्हारे बिन अब लगता नहीं |
कैसे समझाऊं इसे अब समझता नहीं ||

दिल लगाने का हस्र होता है क्या |
ये इतना बुद्धू है कुछ जानता नहीं ||

कितना जिद्दी हो गया है मेरा दिल |
जिद्द करता रहता है मानता ही नहीं ||

तुम्हारी धडकनों को ही सुनता है ये दिल |
किसी और की धडकनों...
नफरत का जलता नही अब दिया
जब से हमने किसी से प्यार किया 
अगर रावण ने विभीषण को भगाया न होता |
तो रावण के कुल का इतना विनाश न होता |

अगर लक्ष्मण राम का सदा साथ न देता |
सोने की लंका का इतना विनाश न होता ||

अगर रावण ने सीता को चुराया न होता |
तो राम रावण का कभी भी युद्ध न होता ||

अगर ...
अगर विभीषण,रावण का साथ देता |
तो रावण के कुल का विनाश न होता |

अगर लक्ष्मण राम का साथ न देता |
सोने की लंका का इतना विनाश न होता ||

अगर रावण ने सीता को चुराया न होता |
तो राम रावण का कभी भी युद्ध न होता ||

अगर नल नील जैसे इंजीनियर न होते |
तो रामेश्वरम से लंका ...
Mera Haal To Dekha Usne,.
Lekin Khairiyat Nahi Poochi,.
Uske Jaane Ke Baad Dil Kai,
Sawaalon Mein Uljha Raha,.

-Azeem Azaad,.
Mera Haal To Dekha Usne,.
Lekin Khairiyat Nahi Poochi,.
Uske Jaane Ke Baad Dil Kai,
Sawaalon Mein Uljha Raha,.

-Azeem Azaad,.
अब तुझे मैं कभी याद न करू 
तू ही बता इसके लिए क्या करू 
इस बार दशहरे पर रावण राम से बोला |
था रामलीला मैदान में तन कर बोला ||
तुम मुझ पर हर वर्ष बाण चलाते हो |
बाण चला कर मुझको  जलवाते हो ||
फिर भी जल कर मै नहीं मर पाता हूँ |
अगले वर्ष जिन्दा होकर लौट आता हूँ ||
पर्यावरण को इस तरह दूषित बनाते हो ...
इस बार दशहरे पर रावण राम से बोला |
था रामलीला मैदान में तन कर बोला ||
तुम मुझ पर हर वर्ष बाण चलाते हो |
बाण चला कर मुझको तुम जलवाते हो ||
फिर भी जल कर मै नहीं मर पाता हूँ |
अगले वर्ष जिन्दा होकर लौट आता हूँ ||
पर्यावरण को इस तरह दूषित बनाते हो |
भारत की जनता को इस...
लाजवाब है तुम्हारे गुलाबी लब
बता तो दो इन्हें चूमने दोगे कब
दोस्तों से ज्यादा दुश्मन  मनोज मेरी परवाह करते है 
दुश्मनी कायम  रखने के लिए वो मुझे ज़िंदा रखते है
Unse Jo Mili Nazar, Hatti Hi Nahi,.
Aankhon Mein Qaid, Wo Manzar Aaj Bhi,.
Koshish Karta Hoon Chupaaye Rakhoon,.
Mohabbat Jo Dil Ke Andar, Aaj Bhi Hai,.

-Azeem Azaad,.
Unse Jo Mili Nazar, Hatti Hi Nahi,.
Aankhon Mein Qaid, Wo Manzar Aaj Bhi,.
Koshish Karta Hoon Chupaaye Rakhoon,.
Mohabbat Jo Dil Ke Andar, Aaj Bhi Hai,.

-Azeem Azaad,.
हर एक गाम पे कांटे बिछा रहा है कोई
हर आबले को मेरे गुल बना रहा है कोई

जब आंख हार अंधेरे से मानने को हुई
उस एक पल कोई दीपक जला रहा है कोई

ख़ुशी ख़ुशी मैं चला जा रहा पस-ए-ज़िंदां
चलो कहीं से तो मुझ को बुला रहा है कोई

था मय का वादा मगर ज़हर भी है हो...
palkon par bitha diye hain khawabon ke  pahre humne
     suna hai woh hamari neendon ko churane wale hain

dil ke darwazon ko bandh karke kya rakhenge hum ab
     suna hai woh dadhkano mein bas jane wale hain 

adhayein aisi rakhte hain ke chah kar bhi bach na payein...
हुस्न के गरूर को उसके यू मैंने तोड़ दिया
बात चीत तो क्या उसे देखना तक छोड़ दिया
कलाम को मेरे चुरा लिया कोई बात नहीं
देखो किसी रोज मेरा दिल मत चुरा लेना

Yoindia Shayariadab Copyright © MGCyber Group All Rights Reserved
Terms of Use| Privacy Policy Powered by PHP MySQL SMF© Simple Machines LLC
Page created in 0.166 seconds with 19 queries.
[x] Join now community of 48377 Real Poets and poetry admirer