प्रकृति व पर्यावरण

by Ram Krishan Rastogi on November 17, 2020, 03:11:02 PM
Pages: [1]
ReplyPrint
Author  (Read 124 times)
Ram Krishan Rastogi
Umda Shayar
*

Rau: 65
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
29 days, 17 hours and 45 minutes.

Posts: 4597
Member Since: Oct 2010


View Profile
Reply with quote
जब पल पल पेड़ कटते जायेंगे ,
तब सब जंगल मैदान बन जायेंगे |
मानव तब बार बार पछतायेगा ,
जब सारे वे मरुस्थल बन जायेगे ||

जब पौधे सिमट गए हो गमलो में ,
प्रकृति सिमट गयी हो बंगलो में |
जब उजाड़ जायेगे घौसले पेड़ो से,
तब बन्द हो जायगे पक्षी पिंजरों में ||

जब गांव बस रहे हो नगरों में,
प्रदूषण फ़ैल रह हो नगरों में |
जहरीली हवा होगी चारो तरफ,
दम घुट जायेगा बंद कमरों में ||

जब वाहन रेंग रहे हो सड़को पर,
वे धुआँ उडा रहे हो सड़को पर |
तब मानव सांस कैसे ले पायेगा ?
वह दम तोड़ेगा अपना सड़को पर ||

तब प्रकृति अपना रौद्र रूप दिखायेगी,
मानव से हर तरह से बदले चुकायेगी |
वह अपने नए रूप में जल्द आयेगी ,
कोरोना जैसी नई महामारी लायेगी ||

आर के रस्तोगी गुरुग्राम
Logged
surindarn
Sarparast ae Shayari
****

Rau: 272
Offline Offline

Waqt Bitaya:
116 days, 19 hours and 47 minutes.
Posts: 26513
Member Since: Mar 2012


View Profile
«Reply #1 on: November 17, 2020, 03:34:01 PM »
Reply with quote
जब पल पल पेड़ कटते जायेंगे ,
तब सब जंगल मैदान बन जायेंगे |
मानव तब बार बार पछतायेगा ,
जब सारे वे मरुस्थल बन जायेगे ||

जब पौधे सिमट गए हो गमलो में ,
प्रकृति सिमट गयी हो बंगलो में |
जब उजाड़ जायेगे घौसले पेड़ो से,
तब बन्द हो जायगे पक्षी पिंजरों में ||

जब गांव बस रहे हो नगरों में,
प्रदूषण फ़ैल रह हो नगरों में |
जहरीली हवा होगी चारो तरफ,
दम घुट जायेगा बंद कमरों में ||

जब वाहन रेंग रहे हो सड़को पर,
वे धुआँ उडा रहे हो सड़को पर |
तब मानव सांस कैसे ले पायेगा ?
वह दम तोड़ेगा अपना सड़को पर ||

तब प्रकृति अपना रौद्र रूप दिखायेगी,
मानव से हर तरह से बदले चुकायेगी |
वह अपने नए रूप में जल्द आयेगी ,
कोरोना जैसी नई महामारी लायेगी ||

आर के रस्तोगी गुरुग्राम

Waah waah bahut achhaa ehsaas aur subject hai.
 Thumbs UP Applause Applause Applause Applause Applause
Logged
Pages: [1]
ReplyPrint
Jump to:  

+ Quick Reply
With a Quick-Reply you can use bulletin board code and smileys as you would in a normal post, but much more conveniently.


Get Yoindia Updates in Email.

Enter your email address:

Ask any question to expert on eTI community..
Welcome, Guest. Please login or register.
Did you miss your activation email?
November 29, 2020, 08:17:09 PM

Login with username, password and session length
Recent Replies
[November 29, 2020, 06:22:12 PM]

[November 29, 2020, 04:00:19 PM]

[November 29, 2020, 03:55:32 PM]

[November 29, 2020, 03:53:02 PM]

[November 29, 2020, 03:51:05 PM]

[November 29, 2020, 03:49:30 PM]

[November 29, 2020, 03:48:14 PM]

[November 29, 2020, 03:47:27 PM]

[November 29, 2020, 03:46:36 PM]

[November 29, 2020, 03:44:31 PM]
Yoindia Shayariadab Copyright © MGCyber Group All Rights Reserved
Terms of Use| Privacy Policy Powered by PHP MySQL SMF© Simple Machines LLC
Page created in 0.21 seconds with 24 queries.
[x] Join now community of 8403 Real Poets and poetry admirer