बताओ तो जाने,(कुछ पहेलियाँ )

by Ram Krishan Rastogi on March 04, 2014, 05:11:19 AM
Pages: [1]
ReplyPrint
Author  (Read 858 times)
Ram Krishan Rastogi
Yoindian Shayar
******

Rau: 62
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
28 days, 12 minutes.

Posts: 4177
Member Since: Oct 2010


View Profile
Reply with quote
कहो कोन हो तुम दमयंती सी,इस तरु के नीचे सोई
हाय!तुम्हे भी छोड़ गया,कोई नल सा राजा    कोई

सूरज की सहेली हो तुम नारियों का नाम हो तुम
सूरज के साथ आती हो सूरज के साथ जाती हो तुम

जाडो मे आता नही ,गर्मियो मे खूब आता है तू  
जब कभी आता है तू,ठंडी हवा चाहता है तू

जाडो मे अछ्छी लगती हो तुम,गर्मियों मे बुरी लगती हो तुम
सूरज के साथ निकलती हो तुम,नाम बताओ तो मेरा तुम

दिन मे खड़ी रहती हूँ मै,रात मे पड़ी रहती हूँ मै
चार भईयो की बहन हूँ मै,हर घर मे रहती हूँ मै

मेरे पैर भी नही है,पर चलता फिरता हूँ खूब,
मै मास्टर भी नही हूँ,पर सबको पढाता है खूब

जब मै नही होता,तब अँधेरा हो जाता,
कुछ लोग मुझे नित्य नियम से जल देते
जब मै छिप जाता,दूसरा भाई निकल कर आता
इसलिए हम कभी नही मिल पाते
बतलाओ भाई बहनों मै क्या कहलाता 

  
Logged
SURESH SANGWAN
Umda Shayar
*

Rau: 776
Offline Offline

Gender: Female
Waqt Bitaya:
27 days, 13 hours and 31 minutes.

I'm full of life !life is full of love

Posts: 8804
Member Since: Feb 2010


View Profile WWW
«Reply #1 on: March 04, 2014, 05:13:56 AM »
Reply with quote
 hello2 hello2 hello2 Thumbs UP
Aapne ans kyun likh diya Rastogi ji
mazaa aata
 happy9 happy9 happy9 happy9
Logged
Advo.RavinderaRavi
Khaas Shayar
**

Rau: 135
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
61 days, 3 hours and 30 minutes.
I Love My Nation.

Posts: 12009
Member Since: Jan 2013


View Profile
«Reply #2 on: March 04, 2014, 07:48:47 AM »
Reply with quote
कहो कोन हो तुम दमयंती सी,इस तरु के नीचे सोई
हाय!तुम्हे भी छोड़ गया,कोई नल सा राजा    कोई

सूरज की सहेली हो तुम नारियों का नाम हो तुम
सूरज के साथ आती हो सूरज के साथ जाती हो तुम

जाडो मे आता नही ,गर्मियो मे खूब आता है तू 
जब कभी आता है तू,ठंडी हवा चाहता है तू

जाडो मे अछ्छी लगती हो तुम,गर्मियों मे बुरी लगती हो तुम
सूरज के साथ निकलती हो तुम,नाम बताओ तो मेरा तुम

दिन मे खड़ी रहती हूँ मै,रात मे पड़ी रहती हूँ मै
चार भईयो की बहन हूँ मै,हर घर मे रहती हूँ मै

मेरे पैर भी नही है,पर चलता फिरता हूँ खूब,
मै मास्टर भी नही हूँ,पर सबको पढाता है खूब

जब मै नही होता,तब अँधेरा हो जाता,
कुछ लोग मुझे नित्य नियम से जल देते
जब मै छिप जाता,दूसरा भाई निकल कर आता
इसलिए हम कभी नही मिल पाते
बतलाओ भाई बहनों मै क्या कहलाता 

 

बेहतरीन,,,,,,,,,लाजवाब,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
Logged
ParwaaZ
WeCare
Umda Shayar
*

Rau: 34
Offline Offline

Waqt Bitaya:
66 days, 11 hours and 16 minutes.

Posts: 5624
Member Since: Aug 2010


View Profile WWW
«Reply #3 on: March 04, 2014, 09:13:30 AM »
Reply with quote

Rastogi jee Aadaab... !


Badi hi khoobsutri se paheliyaaN pesh ki hai aapne..
Kuch Aik samajh meiN aayi toH soNche ke jawaab dete chaleN...




कहो कोन हो तुम दमयंती सी,इस तरु के नीचे सोई
हाय!तुम्हे भी छोड़ गया,कोई नल सा राजा    कोई

Chaaya


सूरज की सहेली हो तुम नारियों का नाम हो तुम
सूरज के साथ आती हो सूरज के साथ जाती हो तुम

Kiran


जाडो मे आता नही ,गर्मियो मे खूब आता है तू 
जब कभी आता है तू,ठंडी हवा चाहता है तू

Paseena


जाडो मे अछ्छी लगती हो तुम,गर्मियों मे बुरी लगती हो तुम
सूरज के साथ निकलती हो तुम,नाम बताओ तो मेरा तुम

Garmi/ Agni/ Dhoop


दिन मे खड़ी रहती हूँ मै,रात मे पड़ी रहती हूँ मै
चार भईयो की बहन हूँ मै,हर घर मे रहती हूँ मै

Saawli/ Tulsi

मेरे पैर भी नही है,पर चलता फिरता हूँ खूब,
मै मास्टर भी नही हूँ,पर सबको पढाता है खूब

Kalam

जब मै नही होता,तब अँधेरा हो जाता,
कुछ लोग मुझे नित्य नियम से जल देते


Batti / light

जब मै छिप जाता,दूसरा भाई निकल कर आता
इसलिए हम कभी नही मिल पाते
बतलाओ भाई बहनों मै क्या कहलाता 


ChaNd
 


Rastogi jee ummid hai lag bhag humne sabhi paheliyoN ke sahiN jawab diye haiN...

Nice to read and answer...
Thanks for sharing..

Keep posting... Keep visiting...
Khuda Hafez...
Logged
nandbahu
Khaas Shayar
**

Rau: 114
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
18 days, 8 hours and 42 minutes.
Posts: 13682
Member Since: Sep 2011


View Profile
«Reply #4 on: March 04, 2014, 02:37:47 PM »
Reply with quote
bahut khoob
Logged
sksaini4
Ustaad ae Shayari
*****

Rau: 853
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
112 days, 4 hours and 19 minutes.
Posts: 36414
Member Since: Apr 2011


View Profile
«Reply #5 on: March 04, 2014, 05:44:23 PM »
Reply with quote
waah waah
Logged
Pages: [1]
ReplyPrint
Jump to:  

+ Quick Reply
With a Quick-Reply you can use bulletin board code and smileys as you would in a normal post, but much more conveniently.


Get Yoindia Updates in Email.

Enter your email address:

Ask any question to expert on eTI community..
Welcome, Guest. Please login or register.
Did you miss your activation email?
November 23, 2019, 12:29:15 AM

Login with username, password and session length
Recent Replies
[November 23, 2019, 12:28:59 AM]

[November 22, 2019, 10:11:02 PM]

[November 22, 2019, 10:02:56 PM]

[November 22, 2019, 10:02:05 PM]

[November 22, 2019, 10:01:01 PM]

[November 22, 2019, 10:00:16 PM]

[November 22, 2019, 09:59:22 PM]

[November 22, 2019, 09:58:27 PM]

[November 22, 2019, 09:57:49 PM]

[November 22, 2019, 09:56:36 PM]
Yoindia Shayariadab Copyright © MGCyber Group All Rights Reserved
Terms of Use| Privacy Policy Powered by PHP MySQL SMF© Simple Machines LLC
Page created in 0.182 seconds with 25 queries.
[x] Join now community of 48409 Real Poets and poetry admirer