बलात्कार एक बङी समस्या

by journalist sandeep on August 13, 2015, 09:19:09 PM
Pages: [1]
Print
Author  (Read 372 times)
journalist sandeep
New Member


Rau: 1
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
4 hours and 7 minutes.

LOVE YOU

Posts: 21
Member Since: Aug 2015


View Profile WWW
बलात्कार एक बङी समस्या https://www.facebook.com/journalistsandeep3
'' कल जब हम दिल्ली गए हुए थे तो वहाँ पर एक लङकी ने हमसे पूछा यार इस देश मे रेप कब बंद होगेँ
तो हमने कहा बहन मे तुम्हे एक कहानी सुनाती हुँ ध्यान से सुनना
! एक लङकी थी रात को आँफिस से वापस लोट रही थी तो देर भी हो गई थी पहली बार ऐसा हुआ ओर काम भी ज्यादा था तो टाइम का पता ही नही चला
वो सीधे बस स्टेशन पहुँची
वहाँ एक लङका खङा था वो लङकी उसे देखकर डर गई की कही उल्टा सीधा ना हो जाए
तभी वो लङका पास आया ओर कहा बहन तू मौका नही जिम्मेदारी हे मेरी ओर जब तक तुझे कोई गाङी नही मिल जाती मैँ तुम्हे छोङकर कहीँ नही जाउँगा
'' dont worry
वहाँ से एक ओटो वाला गुजर रहा था लङकी को अकेली लङके के साथ देखा तो तुरंत ओटो रोक दी ओर कहा
कहाँ जाना हे मेडम आइये मे आपको छोङ देता हुँ
लङकी ओटो मे बेठ गई रास्ते मे वो ओटो वाला बोला तुम मेरी बेटी जैसी हो इतनी रात को तुम्हे अकेला देखा तो ओटो रोक दी आजकल जमाना खराब हेना और अकेली लङकी मौका नही जिम्मेदारी होती हे
लङकी जहाँ रहती थी वो एरिया आ चुका था वो ओटो से उतर गई
ओर ओटो वाला चला गया
लेकिन अब भी लङकी को दो अंधेरी गली से होकर गुजरना था
वहाँ से सिर्फ चलकर गुजरना था
तभी वहाँ से पानीपुरी वाला गुजर रहा था शायद वो भी काम से वापस घर की ओर गुजर रहा था
लङकी को अकेली देखकर कहा आओ मेँ तुम्हे घर तक छोङ देता हुँ उसने अपने ठेले को वही छोङकर एक टोर्च लेकर उस लङकी के साथ अंधेरी गली की और निकल पङा
वो लङकी घर पहुँच चुकी थी आज किसी की बेटी , बहन सही सलामत घर पहुँच चुकी थी
मेरे भारत को तलाश हे ऐसे तीन लोगो की
1) वो लङका जो बस स्टेड पर खङा था
2)वो ओटो वाला ओर
3) वो पानीपुरी वाला
जिस दिन ये तीन लोग मिल जाएगे उस दिन मेरे भारत मेँ रेप होना बंद हो जाएंगे.
दोस्तों कृपया शेयर जरूर करे इस पोस्ट को और बन के दिखाइए (वो लङका जो बस स्टेड पर खङा था) ....
Logged
surindarn
Sarparast ae Shayari
****

Rau: 258
Offline Offline

Waqt Bitaya:
97 days, 15 hours and 38 minutes.
Posts: 20303
Member Since: Mar 2012


View Profile
«Reply #1 on: August 14, 2015, 01:33:49 AM »
Bahut khoob bahut umdah kahaani hai, jo aapne kahaa hai issey kehte hain positive attitude. Agar saarey journalists yahee attitude banaa len to bahut sii samasyaaon kaa hal ho saktee hain. Hip hip hurey to you.
 Clapping Smiley Clapping Smiley Clapping Smiley Clapping Smiley Clapping Smiley Clapping Smiley Clapping Smiley Clapping Smiley
Logged
Prabha prakas
Khususi Shayar
*****

Rau: 24
Offline Offline

Waqt Bitaya:
2 days, 22 hours and 28 minutes.
Posts: 961
Member Since: Feb 2015


View Profile
«Reply #2 on: August 14, 2015, 10:35:20 AM »
Ati-utam sarahaniy    icon_thumleft icon_thumleft icon_thumleft icon_thumleft
 icon_salut icon_salut icon_salut icon_salut icon_salut icon_salut
 Clapping Smiley Clapping Smiley Clapping Smiley Clapping Smiley Clapping Smiley Clapping Smiley Clapping Smiley
Logged
RAJAN KONDAL
Umda Shayar
*

Rau: 10
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
24 days, 1 hours and 59 minutes.

main shaiyar ta nahi magar shaiyri meri zindgi hai

Posts: 5103
Member Since: Jan 2013


View Profile WWW
«Reply #3 on: August 14, 2015, 11:07:50 AM »
v.nicee
Logged
qalb
Umda Shayar
*

Rau: 160
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
41 days, 21 hours and 16 minutes.
Posts: 7189
Member Since: Jun 2011


View Profile
«Reply #4 on: August 14, 2015, 12:12:32 PM »
बलात्कार एक बङी समस्या https://www.facebook.com/journalistsandeep3
'' कल जब हम दिल्ली गए हुए थे तो वहाँ पर एक लङकी ने हमसे पूछा यार इस देश मे रेप कब बंद होगेँ
तो हमने कहा बहन मे तुम्हे एक कहानी सुनाती हुँ ध्यान से सुनना
! एक लङकी थी रात को आँफिस से वापस लोट रही थी तो देर भी हो गई थी पहली बार ऐसा हुआ ओर काम भी ज्यादा था तो टाइम का पता ही नही चला
वो सीधे बस स्टेशन पहुँची
वहाँ एक लङका खङा था वो लङकी उसे देखकर डर गई की कही उल्टा सीधा ना हो जाए
तभी वो लङका पास आया ओर कहा बहन तू मौका नही जिम्मेदारी हे मेरी ओर जब तक तुझे कोई गाङी नही मिल जाती मैँ तुम्हे छोङकर कहीँ नही जाउँगा
'' dont worry
वहाँ से एक ओटो वाला गुजर रहा था लङकी को अकेली लङके के साथ देखा तो तुरंत ओटो रोक दी ओर कहा
कहाँ जाना हे मेडम आइये मे आपको छोङ देता हुँ
लङकी ओटो मे बेठ गई रास्ते मे वो ओटो वाला बोला तुम मेरी बेटी जैसी हो इतनी रात को तुम्हे अकेला देखा तो ओटो रोक दी आजकल जमाना खराब हेना और अकेली लङकी मौका नही जिम्मेदारी होती हे
लङकी जहाँ रहती थी वो एरिया आ चुका था वो ओटो से उतर गई
ओर ओटो वाला चला गया
लेकिन अब भी लङकी को दो अंधेरी गली से होकर गुजरना था
वहाँ से सिर्फ चलकर गुजरना था
तभी वहाँ से पानीपुरी वाला गुजर रहा था शायद वो भी काम से वापस घर की ओर गुजर रहा था
लङकी को अकेली देखकर कहा आओ मेँ तुम्हे घर तक छोङ देता हुँ उसने अपने ठेले को वही छोङकर एक टोर्च लेकर उस लङकी के साथ अंधेरी गली की और निकल पङा
वो लङकी घर पहुँच चुकी थी आज किसी की बेटी , बहन सही सलामत घर पहुँच चुकी थी
मेरे भारत को तलाश हे ऐसे तीन लोगो की
1) वो लङका जो बस स्टेड पर खङा था
2)वो ओटो वाला ओर
3) वो पानीपुरी वाला
जिस दिन ये तीन लोग मिल जाएगे उस दिन मेरे भारत मेँ रेप होना बंद हो जाएंगे.
दोस्तों कृपया शेयर जरूर करे इस पोस्ट को और बन के दिखाइए (वो लङका जो बस स्टेड पर खङा था) ....



 Thumbs UP Thumbs UP Thumbs UP Thumbs UP Thumbs UP Thumbs UP Thumbs UP Thumbs UP Thumbs UP
Logged
Ram Krishan Rastogi
Yoindian Shayar
******

Rau: 61
Offline Offline

Gender: Male
Waqt Bitaya:
27 days, 20 hours and 30 minutes.

Posts: 4125
Member Since: Oct 2010


View Profile
«Reply #5 on: August 14, 2015, 05:33:59 PM »
अगर सभी इंसान ऐसा सोचे कि अगर इस जगह हमारी बेटी या बहिन होती तब हमे क्या करना चाहिये तभी भारत में रेप खत्म हो सकता है पर सभी व्यक्तियों की ऐसी सोच नहीं है तभी रेप होते है, आर के रस्तोगी
Logged
Pages: [1]
Print
Jump to:  


Get Yoindia Updates in Email.

Enter your email address:

Ask any question to expert on eTI community..
Welcome, Guest. Please login or register.
Did you miss your activation email?
October 18, 2019, 02:59:23 AM

Login with username, password and session length
Recent Replies
Yoindia Shayariadab Copyright © MGCyber Group All Rights Reserved
Terms of Use| Privacy Policy Powered by PHP MySQL SMF© Simple Machines LLC
Page created in 0.177 seconds with 24 queries.
[x] Join now community of 48387 Real Poets and poetry admirer